Movie prime

आटा साटा का दर्द, फेरों से पहले लौटी बारात बाथरूम के लिए मंडप से उठा दूल्हा 

आटा-साटा' एक रूढ़िवादी परम्परा है ये एक प्रथा है इसका एक दर्दनाक मामला राजस्थान के शेखावाटी से सामने आया है।
 

'आटा-साटा' एक रूढ़िवादी परम्परा है ये एक प्रथा है इसका एक दर्दनाक मामला राजस्थान के शेखावाटी से सामने आया है। एक परिवार को इसका भारी नुकसान उठाना पड़ा। इस परिवार में बहन और भाई की शादी होनी थी। बहन की शादी टूटी तो भाई को भी कुंवारा रहना पड़ा। इसके लिए फेरों से ठीक पहले दहेज की डिमांड करके बारात को वापस ले जाया गया। ऐसे में दूल्हा और दुल्हन दोनों कुंवारे रह गए। मामला तीन जुलाई का बताया जा रहा है।

दादिया थाना इलाके में तारपुरा गांव में शादी थी। बारात झुंझुनूं के बुगाला से आयी हुई थी। फेरों से पहले लड़के पक्ष ने सवा लाख रुपए की डिमांड कर दी। जब लड़की के पिता ने इंतजाम करने के लिए समय मांगा तो बारात बगैर शादी के लौट गई। दुल्हन फेरों पर दूल्हे के आने का इंतजार करती रही। उधर, दुल्हन के भाई की शादी भी कैंसिल हो गई।

तारपुरा गांव में सुभिता पुत्री सुरजाराम जांगिड़ की शादी बुगाला के अजय जांगिड़ से 3 जुलाई को होनी थी। सुभिता के भाई पंकज की शादी 5 जुलाई को झुंझुनूं के बजावा निवासी कंचन से होनी थी। कंचन के 2 भाइयों की शादी बुगाला में होनी थी। इन सबका रिश्ता अजय के मामा आनंद कुमार ने कराया था। यह सब 'आटा साटा' प्रथा के तहत हुआ था।

दो महीने पहले हुई थी सगाई

सूत्रों की माने तो करीब दो महीने पहले 'आटा-साटा' प्रथा के तहत सगाई हुई थी। उस समय सुरजाराम ने 60 लोगों को नकद रुपए देकर दस्तूर किया था। इसके बाद दहेज का सारा सामान देने के लिए लेकर भी आए। बारात आयी भी और दूल्हा पक्ष वरमाला तक लेकर नहीं आया। कहीं से रात को 10 बजे वरमाला का इंतजाम किया गया। इसके बाद लड़के के पिता महेश ने सवा लाख रुपए नकद और एक मोटरसाइकिल की मांग कर डाली।

लड़की के पिता सुरजाराम ने बताया कि एकाएक सवा लाख रुपए का इंतजाम नहीं हो सकता था। इसके लिए कुछ दिन का समय देने को कहा। कुछ देर बाद फेरे शुरू होने वाले थे। दुल्हन सुभिता मंडप में बैठकर अजय का इंतजार करने लगी। पेशाब करने के बहाने बाहर की तरफ गया अजय लौट कर ही नहीं आया। अचानक दूल्हा गायब हुआ फिर पूरी बारात लापता हो गई। फोन किए लेकिन किसी ने फोन उठाया ही नहीं। घर में हंगामा सा मच गया। जब बेटी की शादी नहीं हुई तो 5 जुलाई को होने वाली बेटे पंंकज की भी शादी अटक गई।

एसपी को बताई आपबीती

सुरजाराम और सुभिता ने उप जिला प्रमुख ताराचंद धायल के साथ एसपी कुंवर राष्ट्रदीप से मुलाकात कर दादिया थानाधिकारी सुभाष पूनियां की शिकायत की। लड़की पक्ष ने आरोप लगाया कि दहेज की मांग कर शादी नहीं करने वालों के खिलाफ 24 घंटे से पहले शिकायत ही नहीं ली। इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की। एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने दहेज की मांग को लेकर शादी से इनकार करने पर कारयवाई करने का आश्वासन दिया है। कहा है कि शादी नहीं होने दी जाएगी। पहले पुलिस कार्रवाई होगी।