Movie prime
सुरेश रैना ने कही बड़ी बात अगर धोनी 2022 आईपीएल नहीं खलेगे तो वह भी छोड़ देंगे खेलना 
रैना ने कहा की अगर हम इस साल 2021 का आईपीएल खिताब जीतते है तो में माही को अगले साल आईपीएल खेलने के लिए मना लूंगा
 

नमस्कार दोस्तों आज हम बात करेंगे क्रिकेट की दुनिया के एक ऐसे खिलाड़ी की जो सभी साथी खिलाडीयों की खुशी में खुश रहता है। अगर कोई बॉलर विकेट लेता है तो मैदान पर उस बॉलर से कई गुना अधिक ख़ुशी इस खिलाड़ी को होती है। जी हाँ दोस्तों आप सही सोच रहे है हम बात कर रहे है पूर्व भारतीय खिलाड़ी सुरेश रैना के बारे में जिन्होने दोस्ती के नाम पर कई बार मैदान पर मिशाल पेश की है। 

अगर दोस्तों में कहूं की आप में से कितने लोग पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के फैन है तो मुझे यकीन है की आप में से पुरे लोग जरूर हाथ उठाएंगे और जो नहीं उठाएंगे उनका मुझे पता नहीं वो क्यों नहीं उनके फैन है। वैसे आप सभी जानते है की धोनी की फैन फॉलोइंग पूरी दुनिया में है। 

अब दोस्तों अगर में कहूं की क्या धोनी और रैना सच्चे दोस्त है तो इस पर अधिकतर लोगों जवाब हाँ में ही होगा मगर कुछ लोगों का ये भी कहना होगा की अगर सच्चे दोस्त है दोनों तो पिछले साल 2020 में यूएई में हुए आईपीएल से रैना बालकनी ना मिलने की वजह से भारत क्यों आ गए थे। तो दोस्तों आपको बता दूँ की उस समय ऐसा कुछ नहीं हुआ था वो सब मात्र अफवा दी थी। आप माही-रैना के बीच दोस्ती का अंदाजा इसी बात से लगा सकते है जब पिछले साल 15 अगस्त 2020 के दिन पूर्व भारतीय कप्तान धोनी ने सन्यास लिया था तो उसके कुछ समय बाद ही यानी की उसी दिन सुरेश रैना ने भी माही के साथ क्रिकेट की दुनिया को अलविदा कहे दिए। मगर इस घटना को एक साल बीत जाने के बाद सुरेश रैना ने कहा है की अगर माही भाई जब तक क्रिकेट खेल रहे जब तक वो भी खेलेंगे। 

क्या कहा रैना ने आईपीएल 2022 को लेकर 

सुरेश रैना और धोनी की दोस्ती के बारे में सब अच्छे से जानते है। मीडिया से हुई बात में रैना ने कहा की अगर हम इस साल 2021 का आईपीएल खिताब जीतते है तो में माही को अगले साल आईपीएल खेलने के लिए मना लूंगा। हम दोनों 2008 से एक साथ एक ही टीम के लिए खेल रहे है। हाँ दो साल चेन्नई के बेन होने पर हम अलग-अलग हो गए थे मगर एक बार फिर चेन्नई सुपर किंग की वापसी पर हम एक ही टीम से जुड़े। अगर धोनी अगली साल 2022 में होने वाली आईपीएल लीग में नहीं खेलते है तो यकीन मानिये में उनके बिना दूसरी टीम से खेलने की सोच भी सकता। 

आपको साफ शब्दों में कहूं तो सुरेश रैना के कहने का मतलब है जब तक वह आईपीएल खेलेंगे तो सिर्फ चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से ही खेलेंगे। अगर धोनी 2022 का आईपीएल नहीं खेलते है तो रैना भी उनके साथ-साथ आईपीएल को अलविदा कहे देंगे। 

आपको एक बार फिर से बता दूँ की दोनों पूर्व खिलाड़ी ने पिछले साल 2020 में इंटरनेशनल क्रिकेट से सन्यास ले चुके है। जैसा रैना ने अभी बताया की वो धोनी के तुरंत बाद क्रिकेट को अलविदा कहे देंगे।