पानीपत फिल्म को लेकर जयपुर के सिनेमा हॉल में की गई तोड़फोड़

आशुतोष गोवारिकर की फिल्म पानीपत की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही है फिल्म को देश के कई राज्यों में विरोध का सामना करना पड़ रहा है सबसे ज्यादा विरोध तो राजस्थान में देखने को मिल रहा है राजस्थान में फिल्म के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन अब हिंसक होते जा रहे हैं सोमवार को राजस्थान के कई सिनेमाघरों में तोड़फोड़ की खबरें सामने आई है कई जगह पर शीशे तोड़े गए तो कई गोपाल के बाहर ताला लटका दे गए इसके अलावा भरतपुर में तो सिनेमाहॉल को ही बंद कर दिया गया

अर्जुन कपूर की वजह से पानीपत हो सकती है फ्लॉप

बता दें कि पानीपत फिल्म के खिलाफ लोगों का गुस्सा इसलिए है क्योंकि ऐसा आरोप लगाया जा रहा है किस फिल्म में इतिहास के साथ एक बार फिर से छेड़खानी करने की कोशिश की गई है फिल्म में महाराजा सूरजमल की छवि को गलत तरीके से दिखाया जा रहा है खुद को महाराजा सूरजमल का वंशज बताने वाले राजस्थान सरकार में मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने कड़ी आपत्ति दर्ज करवाई है उनकी माने तो पानीपत बनाते समय इतिहास के साथ बहुत अधिक छेड़खानी की गई है फिल्म के डायरेक्टर और निर्माता ने सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए यह सब किया है इससे पहले जोधा अकबर में भी यह सब देखने को मिला था ऐसे ही पद्मावती का नाम बदलकर पद्मावत करना पड़ता जब राज्य में हिंसा बढ़ रही थी लगता है अब एक बार फिर से कुछ ऐसा ही पानीपत फिल्म ने किया है बिना इतिहास को ठीक से पढ़ें फिल्म में गलत चीजें दिखाई जा रही है

विश्वेंद्र सिंह ने एक और बात पर नाराजगी जताते हुए कहा कि उनकी मानें तो मराठों की मदद करने के लिए महाराजा सूरजमल ने कभी भी आगरा फोर्ट की मांग नहीं की थी

अब फिल्म कितना सच कितना झूठ यह बताना तो बहुत मुश्किल है लेकिन महाराजा सूरजमल की बंसल ने तो फिल्म को बैन करने की मांग जारी की है उन्होंने ट्विटर कर पानीपत को बैन करने की मांग की है ऐसा नहीं होने पर कानून व्यवस्था भी बिगड़ सकती है उन्होंने बताया है वैसे बता दे राजस्थान की सीएम अशोक गहलोत ने भी इस मामले में सेंसर बोर्ड के दखल की वकालत की है वह कहते हैं पानीपत को लेकर ऐसा विरोध नहीं होना चाहिए था सेंसर बोर्ड को तुरंत मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए फिल्म से जुड़े लोगों को भी जाट सामुदायिक से बात कर मामले को शांत करने की कोशिश करनी चाहिए

बताते चलें पानीपत फिल्म को कोर्ट में भी घोषित नहीं की योजना है विश्वेंद्र सिंह इसी सिलसिले में अपने वकीलों से भी बात करते हुए नजर आ रहे हैं

Leave a Comment

//zuphaims.com/afu.php?zoneid=4047409