महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर पेंच घसा हुआ है अब तक यह साफ़ तोर पर साबित नहीं हो सका है की सरकार किसकी बनेगी बस बयान बाजी चालू है सभी पार्टियों की तरफ से। इससे पहले शिवसेना-बीजेपी मिलकर सरकार बना रही थी परन्तु शिवसेना ने शर्त के तोर पर कही की मुख्यमंत्री उनकी पार्टी का होगा जिसे बीजेपी ने अस्वीकार कर दिया है अब देखने में यह आ रहा है की शिवसेना-कांग्रेस(एनसीपी) को लेकर चर्चा जोरो पर चल रही की दोनों मिलकर सरकार बनाएगी शिवसेना की शर्त को कांग्रेस ने मान ली है की मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा अब आगे क्या होगा यह देखने वाली बात होगी।

महाराष्ट्र : सरकार बनाने का नया फार्मूला आया सामने कौन होगा मुख्यमंत्री

Chief Justice of India रंजन गोगोई का अंतिम दिन कार्यालय में तीन मिनट में 10 केस में नोटिस जारी

सूत्रों की माने तो सरकार बनाने के नया फार्मूला भी तैयार हो गया है इसी बीच कांग्रेस हाईकमान अपने नेताओ की बयानबाजी से परेशान है और उनसे नाराज हो गए है हाईकमान का कहना है की एनसीपी और शिवसेना के साथ कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर सहमति बनने से पहले ही कंग्रेसी नेताओ की बयानबाजी से नुकसान हो सकता है हाईकमान ने ज़्यदा बोलने वाले नेताओ को मीडिया के सामने बोलने से मना करि है।

अमित शाह ने कहा की कांग्रेस को माफी मांगनी चाहिए सुप्रीम कोर्ट के राफेल फैसले पर

अब यह तो आने वाले समय में ही पता चलेगा की सरकार किसकी बनती है महारष्ट्र में।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here