New GST Rates – आज से महंगी हो गई हैं, घर में काम में आने वाली ये दस चीजे | Latest News 2022

महंगी
महंगी

महंगाई की मार झेल रहे आम आदमी की मुश्किलें आज से और बढ़ गई हैं। कई चीजों पर आज से जीएसटी (GST) चुकाना होगा। इनमें घर-घर में इस्तेमाल होने वाली कई चीजें शामिल हैं। इन पर पहले जीएसटी की दर जीरो थे।

जीएसटी काउंसिल (GST Council) की हाल में चंडीगढ़ में हुई बैठक में कई चीजों पर जीएसटी लगाने का फैसला किया गया था। साथ ही कई चीजों पर जीएसटी की दर बढ़ा दी गई है। ये दरें 18 जुलाई यानी आज से लागू हो गई हैं।

जीएसटी काउंसिल के फैसले लागू होने के बाद आज से कई खाद्य वस्तुएं महंगी हो जाएंगी। इनमें पहले से पैक और लेबल वाले खाद्य पदार्थ जैसे आटा, पनीर और दही शामिल हैं। इन पर अब पांच प्रतिशत जीएसटी) देना होगा।

इस तरह 5,000 रुपये से अधिक किराये वाले अस्पताल के कमरों पर भी जीएसटी देना होगा। इसके अलावा 1,000 रुपये प्रतिदिन से कम किराये वाले होटल कमरों पर 12 प्रतिशत की दर से कर लगाने की बात कही गयी है। अभी इसपर कोई कर नहीं लगता है।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) की अध्यक्षता में जीएसटी परिषद ने पिछले दिनों में  अपनी बैठक में डिब्बा या पैकेटबंद और लेबल युक्त (फ्रोजन को छोड़कर) मछली, दही, पनीर, लस्सी, शहद, सूखा मखाना, सूखा सोयाबीन, मटर जैसे उत्पाद, गेहूं और अन्य अनाज तथा मुरमुरे जैसे पर पांच प्रतिशत GST लगाने का फैसला किया गया है ।

इसी प्रकार, टेट्रा पैक और बैंक की तरफ से चेक जारी करने पर 18 प्रतिशत और एटलस समेत नक्शे तथा चार्ट पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगाया गया है ।

कौन सी चीजें हुई महंगी

महंगी
महंगी

लेकिन खुले में बिकने वाले बिना ब्रांड वाले उत्पादों पर GST की छूट भी जारी रहेगी। ‘प्रिंटिंग/ड्राइंग इंक’, धारदार चाकू, कागज काटने वाला चाकू और ‘पेंसिल शार्पनर’, एलईडी लैंप, ड्राइंग और मार्किंग करने वाले उत्पादों पर कर की दरें बढ़ाकर 18 प्रतिशत कर दी गई हैं।

सौर वॉटर हीटर पर अब 12 प्रतिशत GST  लगेगा जबकि पहले पांच प्रतिशत कर लगता था। लेकिन अब  सड़क, पुल, रेलवे, मेट्रो, अपशिष्ट शोधन संयंत्र और शवदाहगृह के लिए जारी होने वाले कार्य अनुबंधों पर अब 18 प्रतिशत GST  लगेगा, जो अबतक 12 प्रतिशत था।

कौन कौन सी चीजें हुई सस्ती

महंगी
महंगी

लेकिन रोपवे के जरिये वस्तुओं और यात्रियों के परिवहन तथा कुछ सर्जरी से जुड़े उपकरणों पर कर की दर को घटाकर 5 प्रतिशत कर दी  गई है। तथा पहले यह 12 प्रतिशत थी। और ट्रक, वस्तुओं की ढुलाई में इस्तेमाल होने वाले वाहनों पर अब 12 प्रतिशत GSTलगेगा। यह रेट पहले 18 प्रतिशत था।

इसी तरह बागडोगरा से पूर्वोत्तर राज्यों तक की हवाई यात्रा पर जीएसटी छूट अब ‘इकनॉमी’ श्रेणी तक ही सीमित रहेगी। आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक), बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण, भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड जैसे नियामकों की सेवाओं के साथ रिहायशी मकान कारोबारी इकाइयों को किराये पर देने पर कर लगेगा। बैटरी या उसके बिना इलेक्ट्रिक वाहनों पर रियायती 5 प्रतिशत GST बना रहेगा।

घर-घर में यूज़ आने वाली ये 10 चीजें हुई महंगी

महंगी
महंगी

दही, लस्सी और छाछ के ऊपर  (5%GST) लगा दी गयी है।
पनीर (5% GST) लगा दी गयी।
सभी तरह के गुड़ (5% GST ) लगा दी गयी है।
खांडसारी शुगर (5% GST) लगा दी गयी है।
नेचुरल हनी (5% GST) लगा दी गयी है।
मुरमुरे, चूड़ा (5% GST) लगा दी गयी है।
छैना मुरकी (5% GST) लगा दी गयी है।
चावल, गेहूं, राई, जौ (5% GST) लगा दी गयी है।
आटा (5% GST) लगा दी गयी है।
टेंडर कोकोनट वॉटर (5% GST) लगा दी गयी है।

अभी तक 1000 रुपए से कम किराया वाले सस्ते या बजट होटलों में ठहरने पर हमें कोई GST चार्ज नहीं देना पड़ता था। लेकिन आज से ऐसे होटलों में ठहरने पर 12 प्रतिशत की दर सेGST चुकानी पड़ेगी।

वहीं, अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिये 5  हजार रुपये से अधिक का कमरा (आईसीयू के अतिरिक्त) बुक कराने पर भी पांच प्रतिशत की दर से GST चार्ज की जाएगी। ऐसे में, इस चार्ज के लगने के बाद आज से इलाज भी महंगा हो गया है।

Read Also – इस महीने की शुरुआत में जीएसटी परिषद की ओर से लिए गए फैसलों को लागू किए

Read Also – द्रौपदी मुर्मू (जन्म 20 जून 1958) एक भारतीय राजनीतिज्ञ और भारतीय जनता पार्टी की सदस्य हैं। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *