Movie prime

सर्दियों में क्यों अधिक बढ़ जाता है जोड़ो का दर्द ? क्या है वजह जाने

जैसा की आपको पता ही होगा की जैसे-जैसे सर्दी बढ़ती है ठीक उसी तरह से बुजुर्गो में जोड़ो का दर्द भी बढ़ जाता है। आखिर ... Read moreसर्दियों में क्यों अधिक बढ़ जाता है जोड़ो का दर्द ? क्या है वजह जाने
 
सर्दियों में क्यों अधिक बढ़ जाता है जोड़ो का दर्द ? क्या है वजह जाने

जैसा की आपको पता ही होगा की जैसे-जैसे सर्दी बढ़ती है ठीक उसी तरह से बुजुर्गो में जोड़ो का दर्द भी बढ़ जाता है। आखिर क्यों बढ़ जाता है यह जोड़ो का दर्द ? ऐसा इसलिए होता है क्युकी सर्दियों में हमें गर्माहट तो मिलती नहीं है और तापमान की कमी आ जाती है, जिसकी वजह से हमारे बॉडी की मांसपेशिया और नसे सिकुड़ने लगती है जिसकी वजह से हमारे शरीर के कई हिस्सों में खून नहीं पहुँच पाता है। यही वजह है की शरीर में अकड़न आने लगती है और हमारा जोड़ो का दर्द बढ़ जाता है। इससे बचने के उपाय भी जाने उसके लिए निचे पढ़े।

सर्दियों के मौसम में हमारा शरीर लगभग ठंडा ही रहता है और शरीर ठंडा रहने की वजह से हमारे शरीर में रक्त संचार नहीं हो पता है। जिसकी वजह से हमें सर्दियों में अधिक दर्द होता है और इस दर्द को वैज्ञानिक भाषा में अर्थराइटिस  कहते है।

खाया पिया नहीं लगता 15 दिन में फर्क दिखेगा

अर्थराइटिस 40 साल से ऊपर वाले लोगो को अधिक होती है और ख़ास तोर पर यह बिमारी महिलाओ में अधिक पायी जाती है। जोड़ो में दर्द इसलिए होता है क्युकी पुरे शरीर का वजन घुटनो पर रहता है इसलिए अर्थराइटिस नामक बीमारी की वजह से जोड़ो में दर्द अधिक होता है।

सर्दियों में क्यों अधिक बढ़ जाता है जोड़ो का दर्द ? क्या है वजह जाने
सर्दियों में क्यों अधिक बढ़ जाता है जोड़ो का दर्द ? क्या है वजह जाने

जोड़ो के दर्द के आलावा अर्थराइटिस नामक बीमारी शरीर के अलग-अलग हिस्सों में भी दर्द की अनुभूति करवाती है जैसे की हाथ-पैर के जोड़ो में दर्द, सूजन, मांसपेशियों में खिंचावट, टेढ़ापन और बुखार इसके लक्षण है।

आपको बता दे की बढ़ती उम्र के साथ शरीर में केल्शियम और कई खनिज चीजों की कमी आ जाती है इसी वजह से शरीर की हड्डिया सम्पर्क में नहीं आती है। वही जोड़ो के बीच में कार्टीलेज का कुशन होता है। हम जैसे-जैसे उम्र के पड़ाव को पार करते है वैसे-वैसे कुशन को चिकना और लचीला बनाए रखने वाला लुब्रीकेंट कम होने लग जाता है। इसके आलवा लिंगामेन्ट्स की चिकनाहट और लचीलता भी कम होने लग जाती है जिसकी वजह से जोड़ अकड़ जाते है। रोजाना की कसरत और पौष्टिक आहार लेने से आप इस बिमारी से बच सकते है।

घर बेठे पता लगाये की आपको पथरी है या नहीं वो भी बिना किसी जाच के

जोड़ो के दर्द से छुटकारा पाने के लिए सुबह की धुप को सबसे अच्छा माना गया है क्युकी धुप से हमें विटामिन डी मिलता है को की हमारी हड्डियों के लिए अच्छी होती है। सर्दियों के समय में विटामिन डी आहार लेना चाहिए जिससे की शरीर आकड़ेगा नहीं वही धूप में बैठने से हमारे शरीर की रक्तशोध क्षमता बढ़ जाती है जिससे जोड़ो के दर्द और सूजन से छुटकारा मिलता है।

सर्दियों में क्यों अधिक बढ़ जाता है जोड़ो का दर्द ? क्या है वजह जाने
सर्दियों में क्यों अधिक बढ़ जाता है जोड़ो का दर्द ? क्या है वजह जाने

इसके बाद ऑफिस में एक जगह बैठकर काम करने वाले लोगो के शरीर में अकड़न आ जाती है उन्हें मेरी यही सलाह है की वह हर एक घंटे में लगभग 5 मिंट अपनी सीट छोड़कर उठे और इधर-उधर घूमे और शरीर को स्ट्रैच करे जिससे की बॉडी को आराम मिलेगा।

शादी के बाद महिलाओ का वजन क्यों बड जाता है ,जाने रोकने के उपाय

महिलाओ को भी एक बात बता दूँ अगर उन्हें जोड़ो के दर्द से बचना है तो उन्हें ऊँची सेंडिल नहीं पहननी चाहिए है इससे महिलाओ के शरीर के साथ एड़ी, घुटने, और पिंडलियों के साथ कमर पर भी गहरा असर होता है।