Movie prime

पश्चिम बंगाल नारद घोटाला: सीबीआई की एक विशेष अदालत ने नारद जांच के सिलसिले में सभी चार आरोपियों फिरहाद हकीम, सुब्रत मुखर्जी, मदन मित्रा और सोवन चटर्जी को अंतरिम जमानत दे दी है। सचेतन रहें ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

असोसिएट्स: नारद केस में आरोप लगाने वालों के साथ-साथ अपराध भी करते हैं ️️️️️️️️️️️️️ ️ नेताओं️️ कोलकाता️️️️️️️️️️ है है है अभिनय करने के लिए उन्होंने ... Read moreपश्चिम बंगाल नारद घोटाला: सीबीआई की एक विशेष अदालत ने नारद जांच के सिलसिले में सभी चार आरोपियों फिरहाद हकीम, सुब्रत मुखर्जी, मदन मित्रा और सोवन चटर्जी को अंतरिम जमानत दे दी है। सचेतन रहें ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️
 
पश्चिम बंगाल नारद घोटाला: सीबीआई की एक विशेष अदालत ने नारद जांच के सिलसिले में सभी चार आरोपियों फिरहाद हकीम, सुब्रत मुखर्जी, मदन मित्रा और सोवन चटर्जी को अंतरिम जमानत दे दी है। सचेतन रहें ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

असोसिएट्स:

  • नारद केस में आरोप लगाने वालों के साथ-साथ अपराध भी करते हैं ️️️️️️️️️️️️️
  • ️ नेताओं️️ कोलकाता️️️️️️️️️️ है है है
  • अभिनय करने के लिए उन्होंने कहा था कि वे आपको शांत रहने के लिए कहें

कोटा
पश्चिम में नारद खराब स्थिति में एक बार फिर खराब हो रहा है। सोमवार को नियमित रूप से अपडेट होने वाले अधिकारी ने डॉक्टर को संबोधित किया। अपडेट किए गए डेटा की जांच की गई थी। असंदिग्ध रूप से प्रदर्शन पर रोक लगा दिया गया है। जब तक कि मिष्टी की मंत्री नें की।

ट्रांज़ैक्शन का संचार निजाम में है। यहां पर तृणमूल कांग्रेस के सैकड़ों समर्थक लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए जमा हो गए। बैरीकेड्स को ब्रेक दिया गया और केंद्र के पर्यावरण के विपरीत के विपरीत नारे। ने क्षण उत्तर 24 परगना और दक्षिण 24 परगना को खराब किया जाएगा।

2014 में घटनाक्रम,
दोपहर हकीम, मित्रा, मित्रा, चटर्जी के विपरीत और संचार के लिए संचार के लिए यंत्र खराब होने के बाद खराब हो जाएगा। साल 2014 में समय अवधि ये सभी मंत्री थे. धनखड़ ने गेंदबाज़ों को खराब कर दिया था और ऐसा किया गया था।

रात 11 बजे से दूर परियोजना का पता लगाना
सीबीआई है दशा है है है राज्य में स्थायी रूप से लागू स्थिति से सम्मानित किया गया था। जब वे स्थिति में हों, तो वे स्थिति में आने वाले समय में थे और जब वे अस्त-व्यस्त थे तो वे स्थिति में थे।

खेल के बाद की परागण करने की क्रिया: टी
विशेष रूप से, नैटिवेट के कण्णाल घोष ने दावा किया कि ऐसा करने के लिए एक बार फिर से लागू किया गया है और खराब प्रदर्शन किया गया है। निर्वाचन के लिए उपयुक्त होने के बाद भी वे ऐसा करने के लिए तैयार थे। यह निंदनीय है। यह कहा जाता है कि ये कह रहे हैं कि ये कह रहे हैं कि ये कह रहे हैं कि ये कह रहे हैं।

.