Movie prime
खराब नेटवर्क की वजह से बच्चों का भविष्य ना बिगड़े इसलिए सोनू सूद इस राज्य में लगाएंगे मोबाइल टावर 
भारतीय अभिनेता सोनू सूद ने केरल के आदिवासी क्षेत्र में ऑनलाइन पढाई करने वाले बच्चों की मज़बूरी को समझे और उनके लिए मोबाइल टावर लगाने के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाए। 
 

भारतीय अभिनेता सोनू सूद ने जिस तरह से कोरोनाकाल में लोगों की मदद की है उससे ये तो साफ़ हो गया है की उन्होंने गरीबों की मदद के लिए अपना सब कुछ दांव पर लगा दिया। मगर सोचने वाली बात है की क्या और भी कोई बड़ा अभिनेता उनके इस काम में उनके साथ जुड़ा है। जी ऐसा बिलकुल भी नहीं है कोई भी उनके साथ नहीं जुड़ा है वह खुद अकेले लोगो की मदद करने के लिए आगे आये है। अगर देखा जाए तो सोनू ने पिछले डेढ़-दो सालों में तामम लोगों की मदद की है परन्तु सोनू की आज के इस मदद को सुनकर आपके दिल में उनके लिए और इज्ज़त बढ़ जाएगी। 

अब आपको तो इस बात का पता होगा ही की भारत समेत पूरी दुनिया में इस समय ऑनलाइन क्लास चल रही है। मगर क्या अपने कभी ये सोचा है की जिस क्षेत्र में मोबाइल नेटवर्क नहीं है वहां बच्चे क्या करेंगे उनकी पढाई पर कितना बुरा प्रभाव पड़ेगा। ऐसे में एक बार फिर से बॉलीवुड में विलन का रोल निभाने वाले सोनू सूद एक बार फिर अपनी असल जिंदगी में लोगों के लिए हीरो बन चुके है क्योंकि उन्होंने उन गरीब बच्चों की पढाई के लिए मोबाइल टावर लगवाने के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाया है। 

कहा का है मामला 

जैसा की आप सभी को पता है की सोनू कोरोनाकाल में लोगों की मदद करने से पीछे नहीं हाट रहे है। ऐसे में आपको बता दूँ की ये मामला केरल राज्य के वायनाड जिले का है जो की उत्तर की तरफ है। वही इस एरिया को हम सरकारी डाटा के आधार पर देखे तो यहाँ का 75% एरिया जंगल है। वही इस क्षेत्र में आदिवासी समुदाय के लोग भारी मात्रा में रहते है। जब मीडिया ने इस बारे में खबर उठाई तो ये बात सोनू सूद के कानों तक जा पहुंची और उन्होंने वहां के बच्चों आश्वासन दिया की चिंता करने की कोई जरुरत नहीं है जल्द ही आप सभी के लिए एक नया मोबाइल टावर लगवाया जाएगा। 

सोनू ने क्या कहा 

जैसा की आप सभी जानते है की सोनू सूद लगातार लोगों की मदद करते हुए नजर आ रहे है। ऐसे में उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा- किसी की भी पढ़ाई अधूरी नहीं रहेगी। @Itsgopikrishnan वायनाड में सभी को सूचित किया जाता है कि हम वहां पर मोबाइल टावर इंस्टाल करने के लिए अपनी एक टीम भेज रहे हैं। @Karan_Gilhotra अब वक्त आ गया है कि हम अपनी सीटबेल्ट कस कर बांध लें. एक और मोबाइल टावर लगाने का वक्त आ गया है @SoodFoundation ।