Connect with us

Latest News

Good Luck Jerry Review: जान्हवी कपूर ने जेरी बनकर जमाया रंग, पहली फुर्सत में घर बैठे देखिए ये क्राइम कॉमेडी | Latest Updates 2022

Published

on

Good Luck Jerry Review: जान्हवी कपूर ने जेरी बनकर जमाया रंग, पहली फुर्सत में घर बैठे देखिए ये क्राइम कॉमेडी | Latest Updates 2022

जान्हवी

जान्हवी

 

गुड लक जेरी
कलाकार –  जान्हवी कपूर , मीता वशिष्ठ , सुशांत सिंह , दीपक डोबरियाल , सौरभ सचदेव और मोहन कंबोज आदि
लेखक –  नेल्सन दिलीप कुमार और पंकज मट्टा
निर्देशक – सिद्धार्थ सेन
निर्माता –  लाइका प्रोडक्शंस , कलर येलो प्रोडक्शंस और महावीर जैन फिल्म्स

 

दक्षिण भारत की जानीमानी फिल्मों की हिंदी रीमेक बॉक्स ऑफिस पर रेगुलर फेल हो रही हैं। ‘जर्सी’, ‘निकम्मा’, ‘हिट द फर्स्ट केस’ को देखने के बाद इसी के चलते फिल्म ‘गुड लक जेरी’ देखते टाइम भी कुछ ज्यादा उम्मीदें होती नहीं हैं। लेकिन फिल्म ‘गुड लक जेरी’ ओटीटी के दर्शकों के लिए मॉनसून सरप्राइज से कम भी नहीं है।

जान्हवी कपूर और कुछ जानेमाने चरित्र अभिनेताओं ने एक साथ मिलकर इस फिल्म को कॉमेडी बनाने की कोशिश भी की है। तमिल फिल्म ‘कोलामावू कोकिला’ की रीमेक ‘गुड लक जेरी’ अगर दर्शकों को गुदगुदाने और भावुक करने दोनों में बहुत हद तक कामयाब रहती है ये तो इसकी कहानी का कमाल है।

तमिल सिनेमा के मशहूर निर्देशक नेल्सन दिलीप कुमार की लिखी कहानी को हिंदी और पंजाबी मिश्रित कलेवर में पंकज मट्टा ने अच्छे से अनूदित भी किया है।

जान्हवी

जान्हवी

 

जेरी, चेरी और मां की कहानी

फिल्म ‘गुड लक जेरी’ फिल्म को देखने की पहली वजह तो दर्शकों के लिए जान्हवी कपूर ही हैं। वो फिल्म में जया कुमारी उर्फ जेरी के रोल में हैं। मसाज पार्लर में काम करने वाली और घर की बड़ी बेटी के कहीं पैर न भटक जाएं तो मां उसके हाथ पीले करने की तयारी में है। वो खुद भी मोमोज बनाकर अपना घर चलाने की कोशिश करती रहती है।
छोटी बेटी छाया कुमारी और उर्फ चेरी अभी पढ़ रही है। घर में ओनली तीन लेडिस ही हैं तो पड़ोस वाले अंकल भी खुद को घर का हिस्सा ही मान लेते हैं। और अपना ये रिश्ता वो आगे चलकर निभाते भी हैं। ये कहानी पंजाब की पृष्ठभूमि में है और वहां होने वाले नशे का कारोबार इस परिवार की कहानी में एक हादसे के चलते घुल जाता है। और जेरी को लगता है कि इसमें तो अच्छा पैसा ही है। मां के कैंसर का इलाज उसकी मजबूरी होती है।
लेकिन, जेरी इस धंधे से खुद को बाहर लाना चाहती है। कारोबारी नहीं मानते हैं तो फिर वो एक एक करके कैसे सबको निपटाती है, यही फिल्म ‘गुड लक जेरी’ की आगे की कहानी है।

जान्हवी

जान्हवी

Good Luck Jerry Review: जान्हवी कपूर ने जेरी बनकर जमाया रंग, पहली फुर्सत में घर बैठे देखिए ये क्राइम कॉमेडी | Latest Updates 2022\

 

जान्हवी कपूर ने जमाया रंग

जान्हवी कपूर की सिनेमा में बोहनी ही रीमेक फिल्म ‘धड़क’ से ही हुई। इस अपशकुन को छोड़ दें तो जान्हवी कपूर ने अपनी आने हर फिल्म में पिछली फिल्म से ज्यादा अच्छा होने की कोशिश रेगुलर की है। पिछले साल सिनेमाघरों में रिलीज हुई ‘रूही’ और उससे पहले सीधे ओटीटी पर रिलीज हुई ‘गुंजन सक्सेना’ में भी जान्हवी के रोल की बहुत ही तारीफ हुई।
श्रीदेवी के डीएनए का असर कहें या उनकी अपनी रेगुलर खुद को मांजते रहने की जिद, जान्हवी कपूर हिंदी सिनेमा की बेतरीन अभिनेत्री के तौर पर अपने आप को धीरे धीरे स्थापित करने में सफल हो ही रही हैं। फिल्म ‘गुड लक जेरी’ में उनका रोल बिहार से पंजाब आए परिवार की बड़ी बेटी का है। वो घर संभालने की जद्दोजहद में लगी हुई है।
और उनकी मां हमेशा चिढ़ी सी रहती है। और रास्ते में उनके एक दिलफेंक आशिक भी पीछे लगा रहता है। अलग अलग स्थितियों में जान्हवी का अभिनय अलग अलग भावों के साथ फिल्म को मजबूती प्रदान करता है और फिल्म देखने का असल यूएसपी भी वो ही हैं।

जान्हवी

जान्हवी

सिद्धार्थ और पंकज की जुगलबंदी

फिल्म ‘गुड लक जेरी’ को बिना ब्रेक के देखने में ही ज्यादा मजा है।लेकिन फिल्म क्लाइमेक्स पर आकर थोड़ा लड़खड़ाती सी जाती है और ये लगता है कि फिल्म की कहानी का उपसंहार तलाशने में थोड़ी जल्दबाजी भी की गई थी। लेकिन, पंकज मट्टा और सिद्धार्थ सेन मिलकर फिल्म को संभालने में कामयाब रहे हैं।
फिल्म के संवाद माहौल को जमाने में बहुत ही मदद करते हैं। सिद्धार्थ सेन टेलीविजन और वेब सीरीज का जाना माना नाम हैं। सिनेमा में ये उनकी पहली कोशिश है। फिल्म का पूर्वार्ध बहुत बेहतरीन है।
हंसी के तमाम मौके इस दौरान फिल्म में आते हैं। ये फिल्म लड़खड़ाना तब शुरू होती है जब जेरी एक के बाद एक सबको बेवकूफ बनाकर ड्रग माफिया के चंगुल से अपने आपको बाहर निकलने की कोशिश करती है। निर्देशक और लेखक के सामने चूंकि कहानी पहले से तय है तो इसमें ज्यादा फेरबदल की गुंजाइश भी कम ही रही होगी।

जान्हवी

जान्हवी

 

दमदार कलाकारों की चमकदार आकाशगंगा

पंकज मट्टा, सिद्धार्थ सेन और जान्हवी कपूर अगर इस फिल्म की त्रिमूर्ति हैं तो फिल्म में शामिल बाकि के कलाकार इसकी आकाशगंगा से कम भी नहीं हैं। ये कलाकार ही फिल्म को अपनी असली राह पर ले जाते हैं। नौटंकीबाज मां के रूप में मीता वशिष्ठ ने प्रभावित करने में सफलता भी हासिल की है। टिमी बने सौरभ सचदेव कहानी में उत्प्रेरक का रोल निभाते हैं।
डड्डू के रोल में मोहन कंबोज कहानी को रेगुलर सेंकते रहते हैं और अरसे बाद किसी ढंग के रोल में दिखे सुशांत सिंह भी अपना असर छोड़ने में बहुत ही सफल रहे हैं। फिल्म में और भी बहुत कलाकार छोटे छोटे किरदारों में हैं और सब अपनी अपनी आहुतियां जरूरत के हिसाब से ही देते रहते हैं।

गुड लक जेरी

ये भी पढिये – 

Read Also – Good Luck Jerry Review: जान्हवी कपूर ने जेरी बनकर जमाया रंग, पहली फुर्सत में घर बैठे देखिए ये क्राइम कॉमेडी

Read Also – Ramarao On Duty: साउथ सुपरस्टार रवि तेजा की ‘रामाराव ऑन ड्यूटी’ का ट्रेलर रिलीज, दमदार एक्शन करते नजर आए एक्टर | Latest Updates 2022

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Copyright © 2022 news7todays.com