पपीता

papaya के साइड इफेक्ट

papaya
papaya

बात जब अपने हेल्थ  की आती है। पपीता एक कैलरी फल है , तथा इसको पीने से व्यक्ति स्वस्थ रहता हे  इसलिए पपीते का नाम सबसे पहले लिए जाता हैं।

जो आपकी सेहत के लिए सबसे अच्छा रहता है। पपीता में फाइबर, विटामिंस जैसे कई पोषक तत्व होते हैं। जो अपने शरीर में पाचन क्रिया को बढ़ाता है,

तथा  वजन बढ़ाने में भी मदद करता है।पपीता जैसे फल से  डायबिटीज, व् कैंसर  जैसे रोगों को दूर करने में सहायता करता हे। पपीता खाने से बहुत सारे फायदे मिलते हैं।

तथा कुछ लोगों को papaya का सेवन करने से परहेज भी  करना चाहिए। क्योकि किसी को पपीता खाने की वजह से फायदे की जगह नुकशान भी हो जाता हैं।

प्रेग्नेंट महिलाएं के लिए  

papaya
papaya

पपीते में मौजूदलेटक्स गर्भाशय के संकुचन को ट्रिगर कर सकता है। तथा  ऐसे में प्रसव जल्दी होने की संभावना भी बनी रहती है। और इसके अलावा पपीते में मौजूद पपैन की वजह से हमारा शरीर प्रोस्टाग्लैंडीन समझने की गलती करता है। इससे भ्रूण की झिल्ली पर  बहुत बुरा असर पड़ सकता है। यही वजह है कि गर्भावस्था में पपीता खाने से परहेज करना चाहिए। 

किडनी में पथरी

अगर आपको किडनी में पथरी की शिकायत है, तो पपीते का सेवन करने से बचना चाहिए तथा पपीते का परहेज रखना चाहिए ।  दरअसल, अधिक मात्रा में पपीते के सेवन से कैल्शियम ऑक्सलेट उत्पन्न हो सकता, 

और किडनी में नुकशान हो सकता है , जिसके कारण  किडनी में पथरी बढ़ सकती है। और  यूरिन के जरिए पथरी निकलना भी मुश्किल हो सकता है।

पपीते से  एलर्जी की शिकायत

papaya
papaya

papaya में मौजूद चिटिनेज नामक एंजाइम होता है, जो लेटेक्स पर क्रॉस रिएक्शन भी  कर सकता है। तथा इसके कारण आपको सांस लेने में परेशानी होती हे व्  छींक और खांसी आना भी शुरू हो जाती है। आंखों में पानी आने जैसी समस्या हो सकती है। 

पीलिया और अस्थमा

अगर आप papaya और अस्थमा के मरीज  होते हैं, तो आपको पपीता (Papaya)खाने से नुकसान हो सकता है। तथा एक्सपर्ट्स के अनुसार, पपीते में मौजूद पपाइन और बीटा कैरोटीन इन दोनों बीमारियों के लिए नुकसानदायक होता है ।

बीपी के मरीज
papaya
papaya

एक्सपर्ट के अनुसार अगर हृदय रोगों के ​मरीजों के लिए भी papaya का सेवन नुकसानदायक साबित हो सकता है। पपीते के अधिक सेवन से हार्ट बीट स्लो हो सकती है। बीपी के रोगी इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करें।

papaya खाने से दिल की बीमारियां, डायबिटीज, कैंसर और ब्लड प्रेशर की समस्या दूर होती है लेकिन कुछ लोगों के लिए पपीता नुकसानदायक भी हो सकता है. इसलिए पपीते का  लिमिट मात्रा में ही सेवन करना चाहिए। 

कच्चे पपीता के फायदे
papaya
papaya

पके papaya की तरह ही कच्चा पपीता भी पेट के रोगों में फायदेमंद है। तथा यह गैस, पेटदर्द और पाचन की समस्याओं में फायदेमंद है और यह आपका पाचन तंत्र भी अच्छा करता है। जिसे आपको खाना खाने के बाद पाचन क्रिया में कोई समस्या न आये।

कच्चा पपीता गठिया और जोड़ों की समस्याओं में भी काम आता है। ग्रीन-टी के साथ उबालकर बनाई गई चाय सेवन गठिया को ठीक करने में साहयता  करता है। तथा आपको स्वस्थ करने में मदद करता है। 

कच्चा पपीता आपका वजन कम करने में भी साहयता करता है। तथा इसका नियमित सेवन तेजी से फैट बर्न करने में साहयता करता है , जिससे आपका वजन जल्दी कम हो जाता है।

डायबिटीज के लिए भी कच्चे पपीते के फायदे बहुत हैं। यह खून में शुगर की मात्रा को कंट्रोल करने में  भी मदद करता है और आपकी डायबिटीज भी कंट्रोल में रहती है। 

इसका एक बेहतरीन फायदा यूरिन इंफेक्शन से बचाव है और उसे ठीक करने में फायदेमंद है। इसका नियमित रूप से  इस्तेमाल करने से आपको इस समस्या से निजात मिल जाता है।

पीलिया हो या फिर लिवर संबंधी अन्य कोई समस्या, कच्चे पपीते का सेवन आपके लिए फायदेमंद है।

विटामिन ई, सी और ए के साथ एंटी-ऑक्सीडेंट, फीटोन्यूट्रिएंट्स और इसमें मौजूद अन्य पोषक तत्व, कैंसर से बचाव के साथ आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है।  

Read Also – पपीते में मौजूद लेटक्स गर्भाशय के संकुचन को ट्रिगर कर सकता है।

Read Also – मैं पुणे का रहने वाला हु। मेरी उम्र 30 है। मैं अपनी पत्नी से बहुत ज्यादा प्यार करता हूं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *