महिला आत्महत्या

हर नये दिन कर रही है अफगानिस्तान में महिला आत्महत्त्या -जानिए

महिला आत्महत्या
महिला आत्महत्या

अफगानिस्तान से एक बढ़ी खबर सामने आयी है उस खबर को सबसे पहले जानने के हमारी वेबसाइट news7todays .com से जुड़े रहिये। यहाँ पर आपको हर रोज देश -विदेश से जुडी कई खबर मिलेगी। पूर्व डिप्टी ने बताया है की अफगानिस्तान से उनके पास सूचनाओं के साथ बड़ी खबर आयी है की अफगानिस्तान में हर नये दिन महिला आत्महत्त्या कर रही है। मैं उसकी भी वजह आपको बताउगा वजह जानने के लिए पोस्ट के अंत तक बने रहिये।

किस कारण से कर रही अफगानिस्तान की औरत हत्त्या -जानिए 

सूत्रों से पता चला है की अफगानिस्तान में हर नये दिन वहा की महिलाए आत्महत्त्या कर रही है। हर नये दिन दो से चार महिला खुदखुशी कर रही है।

अफगानिस्तान पर तालिबान ने बहुत से ऐसे हत्त्याचार किये है जिसको अफगानिस्तान के लोग मरते दम तक भूल नहीं पाएंगे। तब से अफगानिस्तान में तालिबान ने अपनी खुद की नयी सरकार बनाई है। तब से वहा के लोगो का जीना हराम हो गया है। बस उसकी कारण से अफगानिस्तान में महिलाओ के लिए ऐसे नियम लागु कर दिए है।

वहा पर महिला खुद को बंदक समजने लगरही है उन्हें वहा पर कोई अवसर नहीं मिल रहा है।  बीमार मानसिक स्वास्थ्य महिलाओं पर काफी भारी पड़ रहा है जिसकी वजह से अफगानिस्तान की महिला हर नये दिन आत्महत्त्या कर रही है।

अवसर नहीं मिलने की वजह -जानिए | अफगानिस्तान में हर नये दिन कर रही दो से तीन महिला आत्महत्या -जानिए वजह | Latest Updates 2022

महिला आत्महत्या
महिला आत्महत्या

तब से तालिबान ने अफगानिस्तान में अपनी सत्ता जमाई है तभी से वहा पर बहुत से नियमो तालिबानियों ने बदलाव कर दिए है। खास कर महिलाओ के लिए उन्होंने कठोर नियम लागू कर दिए है। एक तरीके से ये महिलाओ का शोषण हो रहा था। उनके खिलाफ अफगानिस्तान की कई महिलाओ ने आवाज भी उठाई थी लेकिन उसका कोई फायदा नहीं हुई। उसी की वजह से आज वहा की महिला हर नए दिन आत्महत्या कर रही है।

हर दिन मर मर के जीने से तो अच्छा है की वो एक बार ही मर जाये। तालिबान ने उन्हें केवल घर की चार दीवारी में बंद कर के रख दिया है।

मासूम लड़कियों को किस कारण बेचा जा रहा है -जानिए 

अफगानिस्तान के पूर्व संसद पूर्व डिप्टी स्पीकर फोजिया कूफी ने बताया है की तालिबान ने महिलाओ के कपड़ो और उनके रहन सहन को लेकर बहुत ऐसे बदलाव कर दिए है जिसका महिलाओ ने कई बार उसका विरोध भी किया था। उन्होंने बताया की नौ साल से भी कम उम्र की लड़कियों को बेचा जा रहा है। उन्हें ऐसा इसलिए करना पढ़ रहा है उनके लिए कोई उम्मीद नहीं बची है।

लड़कियों की सुरक्षा और उनके अधिकारों को लेकर की गयी अपील -जानिए 

वहीं, भारत ने अफगानिस्तान में सार्वजनिक जीवन से महिलाओं को बाहर किए जाने की बढ़ती कोशिशों को लेकर शुक्रवार को चिंता व्यक्त की। उसने महिलाओं और लड़कियों के अधिकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आह्वान किया। जिनेवा में भारत के स्थायी मिशन में भारत के उप स्थायी प्रतिनिधि राजदूत पुनीत अग्रवाल ने कहा एक निकटवर्ती पड़ोसी और अफगानिस्तान के लंबे समय से साझेदार के रूप में देश में शांति और स्थिरता की वापसी सुनिश्चित करने की भारत की कोशिश है।

मुख्य बाते :-

  • अपने अधिकारों के लिए हर रही महिलाए हत्त्या
  • उन्हें बीना किसी कारण के दिया रहा है दंड
  • तालिबान ने कर दिया उनके जीवन को बर्वाद
  • मासूम लड़कियों को मज़बूरी में बेचा जा रहा है।

Read Also –अफगानिस्तान में हर दिन एक या दो महिला कर रही आत्महत्या, पूर्व डिप्टी स्पीकर का दावा

Read Also-सबसे कम पेट्रोल खाती है Tayota की Suv -जानिए कम पेट्रोल में ज्यादा माइलेज देती है ये गाड़ी | Latest Updates

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *