प्रदर्शनकारियों को नहीं मिली गृहमंत्री अमित शाह से मिलने की इजाजत

नहीं दी गयी इजाज़त अमित शाह से मिलने की प्रदर्शनकारियों को
नागरिकता संसोधन कानून को लेकर प्रदस्षणकारियो को नहीं मिली गृहमंत्री अमित शाह से मिलने की इजाज़त

शाहीनबाग के प्रदर्शनकारी रविवार के दोपहर २ बजे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मिलने वाले थे, लेकिन उन्हें पुलिस
प्रशासन ने मिलने की इजाजत नहीं दी। इजाजत नहीं मिलने पर प्रदर्शनकारियों ने कानून हाथ में न लेने और दायरे में
रहकर प्रदर्शन करते रहने का निर्णय लिया। बता दें कि शाहीन बाग बीते २ महीनों से नागरिकता कानून के खिलाफ
विरोध प्रदर्शन का केंद्र बना हुआ है।

डीसीपी साउथ ईस्ट आरपी मीणा ने कहा, शाहीन बाग प्रदर्शनकारियों ने बताया कि वे गृह मंत्री अमित शाह से मिलने
के लिए मार्च निकालना चाहते हैं। परंतु हमने इसके लिए इनकार कर दिया क्योंकि उनके पास किसी प्रकार का कोई
अपॉइंटमेंट नहीं था।

इससे पूर्व न्यूज एजेंसी ANI ने एक पुलिस अधिकारी के हवाले से बताया था कि उन्होंने प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली
पुलिस को एक पत्र लिखा था। पत्र में प्रदर्शनकारियों ने सरिता विहार से आश्रम के रास्ते होते हुए गृह मंत्री के आवास
तक जाने की इजाजत मांगी थी।

आगे इन सबके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों से लिस्ट मांगी थी कि प्रतिनिधिमंडल में कौन-कौन हैं जो गृहमंत्री
अमित शाह से मिलना चाहते हैं? उत्तर में कहा गया कि वे सभी मिलने जाना चाहते हैं।

क्या कहा गृहमंत्री अमित शाह ने?

गौरतलब है कि गृहमंत्री सीएए को लेकर बहस की चुनौती दे चुके हैं। उन्होंने कहा था कि जिसे भी इस कानून से
दिक्कत है, वह उनसे बात करे। वह लोगों को समझाने के लिए तैयार हैं। प्रदर्शनकारियों ने कहा, गृहमंत्री अमित शाह
जी ने कहा था, जिसको भी सीएए समझना हो, जिसे भी दिक्कत हो वह मुझसे बात करें। उन्होंने यह नहीं कहा था कि
कौन आ सकता है, और कौन नहीं। अब पूरे देश की जनता उनसे इस कानून के बारे में समझना चाहती है।

प्रदर्शनकारियों ने क्या कहा?

प्रदर्शनकारियों ने कहा, इस मामले को लेकर हुई बैठक में हमने वहां मौजूद लोगों से पूछा, क्या हमें गृहमंत्री से
मुलाकात करने जाना चाहिए? सभी ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने फिर कहा था, गृहमंत्री से मुलाकात को
लेकर महिलाएं और वकीलों की टीम दिल्ली पुलिस से इजाजत और सुरक्षा मांगने के लिए गई है।

इससे पहले, दबंग दादियों के नाम से चर्चित सरवरी व बिल्किस नामक बुजुर्ग महिलाओं ने शनिवार को मीडिया से
कहा था, हम कल अमित शाह से दोपहर दो बजे मुलाकात करने जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *