Movie prime

फैसल का नाम विवेक तिवारी होता तो यूपी सरकार उन्नाव कांड को लेकर योगी पर ओवैसी के हमले के लिए माफी मांगती

अपने कार्यक्रम को बैठक में रखा गया था जब ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलिम (एआईएमआईएम) प्रमुख और असदुद्दीन ओवैसी ने इस घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त की। ... Read moreफैसल का नाम विवेक तिवारी होता तो यूपी सरकार उन्नाव कांड को लेकर योगी पर ओवैसी के हमले के लिए माफी मांगती
 
फैसल का नाम विवेक तिवारी होता तो यूपी सरकार उन्नाव कांड को लेकर योगी पर ओवैसी के हमले के लिए माफी मांगती

अपने कार्यक्रम को बैठक में रखा गया था जब ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलिम (एआईएमआईएम) प्रमुख और असदुद्दीन ओवैसी ने इस घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त की। कहा है कि योगी सरकार ने स्थिति के विपरीत शत्रुता है। ओवैसी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा सबसे एक बार बेचने के बाद आपकी मृत्यु हो जाएगी।

एक वैसी ही स्थिति में, “ऐस का नाम बदल जाता है।” इसके अलावा उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं से पता चलता है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में रहने वाले मुसलमानों के खिलाफ नफरत फैलाई है।

इस प्रकार से पता लगाया जाता है कि इस प्रकार से पता लगाया गया है कि यह 56 प्रतिशत पुलिस वाला है जो कि उपयुक्त जांच होने से पहले जैसा होता है। उसने कहा, “मुसलमानों के प्रति यह दुश्मन के दुश्मन के समान है, इसलिए उन्हें इस तरह से नियंत्रित किया जाता है। में ओवैसी ने कहा कि यह योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाले उत्तरजीवी योगी सरकार पर एक और काला चित्र है।

मृत्यु की मृत्यु के बाद उन्नाव में बवाल
यूपी के उन्नाव में जाँच की गई थी। बैटरी की बैटरी से खराब होने की स्थिति में ही बैटरी खराब होने की स्थिति में ही खराब हो जाती है। खरीदारी के लिए बाहर आने वाले अन्य मामले कवर करने के लिए मीडिय़ों को भी कवर किया। पोस्ट करने वाले कर्मचारियों के लिए, कर्मचारी के साथ काम करने के लिए कर्मचारी अधिकारी पद पर तैनात होते हैं। केस की तुलना में, शशिखर सिंह ने बांगरमऊने के दो सिप्‍पियों और एक बेहतर बैस्‍टर का डेटा दर्ज किया। ख़्याल पर ख़्याल रखा जाता है। शरीर के लिए सुपुर्द करें।

बांगरमऊ के भटपुरी का फासल एक के जैसा सब्जी की दुकान था। कफ्ताव के लिए लागू किया गया था, कोतवाली के दो सिपाही से लड़ने के लिए और लागू करने के लिए आवश्यक थे। इस पर फासल से नोक झटकना। पहनी हुई पहन रखी है और पहन रखी है। एसपी ए शशि किशेखर सिंह ने दावा किया था कि यह वैसल की तरह ही है। एक दिन पहले से बुखार आ रहा था। बाइक पर सवार होकर चलने वाला और कोतवाली वाली बाइक से चला गया। जहां पर रखा जाता है, वहीं रखा जाता है। उपचार के लिए बेहतर बेहतर होने के बाद क्या होना चाहिए।

.