Movie prime
दिनेश कार्तिक का जीवन परिचय, Wiki, Age, Career, girlfriend, wife, Family, Latest News, Photos & More
जब दिनेश को अपनी जिंदगी का अंत दिख रहा था उस समय उजाले की रोशनी लेकर आयी दीपिका ने उनके जीवन में एक बार फिर चार चाँद लगा दिए और उनके जीवन को खुशियों की झोली से भर दिए।
 

नमस्कार दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है की आज भारत के करोडो युवा क्रिकेट को अपनी दुनिया मान चुके है और कही ना कही वो सभी लोग जो क्रिकेट खेलना पसंद करते है, उनमे से अधिकतर लोग भारतीय क्रिकेट टीम के लिए या देश के लिए खेलने की मन में इच्छा रखते है मगर उनमे से अधिकतर लोगों को निराशा ही हाथ लगती है। बहुत हम लोग होते है जो अपनी मेहनत और लगातार कोशिश करने के बाद टीम में आते है और देश का नाम रोशन कर जाते है। वैसे भारतीय क्रिकेट टीम की तरफ से खेलने का सपना तो हर एक भारतीय क्रिकेट प्रेमी के दिल में होता है। मगर किसी ना किसी वजह से वो सपना पूरा नहीं हो पाता है। जिनका सपना पूरा हो जाता है वो लोग भारतीय टीम के लिए कुछ ख़ास करने की सोच रखते है जिससे आने वाले कई सालों तक टीम में उनकी मिशाल दी जाए। अब आप चाहे तो पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव की बात करे ले या सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, राहुल द्रविड़, एम.एस धोनी, हो या फिर युवराज सिंह, हरभजन सिंह, जाहिर खान इन सभी को आज भारतीय टीम में सम्मान के साथ और पूरा देश इनकी मैच विजयी पारी को याद करती है। 

ठीक इसी तरह दिनेश कार्तिक को भी 2018 में हुए निदहास ट्रॉफी के फाइनल में उनकी बल्लेबाजी को कौन भूल सकता है उनकी इस पारी ने भारत को हारा हुआ मैच जीता दी थी। इसी के साथ हम आपको दिनेश की लाइफ से जुडी एक ऐसी सच्चाई से भी रूबरू करवाएंगे जिसे आज भले वह लोगो के सामने न बताये मगर जो उनके साथ हुआ वो वाक्ये गलत था। जब उनकी पत्नी ने उनके साथी खिलाड़ी और दोस्त को दिल दे बैठी थी तब पूरी तरह टूट गए थे कार्तिक। तो अब दोस्तों बिना समय लिए हम आपको दिनेश कार्तिक के जीवन परिचय, Wiki, Age, Career, girlfriend, wife, Family, Latest News, Photos आदि के बारे में जानकारी देंगे। 

दिनेश कार्तिक का जन्म और परिवार 

दिनेश कार्तिक का जन्म 1 जून 1985 में तमिलनाडु राज्य के चेन्नई में एक तमिल परिवार में हुआ था। वह भूतपूर्व क्रिकेटर कृष्णा कुमार और पद्मिनी कृष्णा के बटे हैं। दिनेश कार्तिक के बचपन वास्तविक नाम कृष्णा कुमार दिनेश कार्तिक हैं। दिनेश कार्तिक के पिता चेन्नई की तरफ से प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलते थे उन्होंने ही दिनेश कार्तिक को क्रिकेट खेलना सिखाया, अपने पिता की चाहत पर दिनेश भी बहुत ही खरे उतरे उन्होंने भी अपना कैरियर क्रिकेट को ही बनाया। 

इसके कार्तिक के परिवार में इनका एक छोटा भाई भी है जिसका नाम विनेश है , कार्तिक ने अपने जीवन काल में अभी तक दो बार विवाह किया है। कार्तिक की पहली पत्नी का नाम निकिता है और दूसरी पत्नी का नाम दीपिका पल्लिकल जो वर्ष 2015 मेदिनेष के साथ शादी की हुई है।  उनकी पहली पत्नी से दिनेश कार्तिक को बच्चे भी है।

शिक्षा और दिनेश का शुरूआती करियर 

दिनेश ने शुरू में चेन्नई के डॉन बॉस्को स्कूल से अपनी शिक्षा ग्रहण की उसके बाद उन्होंने सेंट बेड्स एंग्लो इंडियन उच्च माध्यमिक स्कूल, चेन्नई से प्राप्त की। इसके अतिरिक्त कार्तिक ने इंडियन पब्लिक स्कूल, सलमानिया, कुवैत से भी अपनी शिक्षा ग्रहण की है। उनके कॉलेज की शिक्षा के बारे में हमे कोई जानकारी नहीं है अगर हमे पता चलता है तो हम आपको जरूर बताएंगे।

कुवेट में 2 साल रहने के बाद कार्तिक ने 10 साल की उम्र में क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था। कार्तिक को क्रिकेट की शुरुआती ट्रैनिंग अपने पिता से ही मिली जो चेन्नई के फर्स्ट क्लास क्रिकेटर हुआ करते थे। दिनेश के पिता अपने क्रिकेट करियर से निराश थे क्योंकि उनके पेरेंट्स ने पढ़ाई को अधिक महत्व दिया था। इसलिए यह नही चाहते थे के दिनेश की क्रिकेट में कभी समस्या उनके सामने आये। उन्होने दिनेश को कम उमर में ही हार्ड वर्क करना सीखा दिया ओर बाद में उन्हे रॉबिन सिंग से ट्रैनिंग भी दिलवाई, जिसका परिणाम आज पूरी दुनिया के सामने है।

कार्तिक ने साल 2002 में बड़ौदा के खिलाफ बतौर विकेटकीपर के रूप में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण किये थे। मगर उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं था उसके बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया। मगर साल 2003 और 2004 में उन्हें एक बार फिर मौका मिला और वह रणजी खेलने के लिए उनका नाम चयन किया गया। इस दौरान दिनेश ने खुद को साबित किया और 2 शतकों के साथ 438 रन बनाए इसी के साथ उन्होंने विकेट के पीछे 20 शिकार भी किये। इस दौरान उन्होंने रेलवे के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में 122 रन बनाये जो की उनका प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पहला शतक था। इसके बाद दिनेश की भूख और तेज बढ़ गई फिर उन्होंने फाइनल में मुंबई के खिलाफ नाबाद 109 रन बना दिए। 

इसके बाद कार्तिक को 2004 में Undar-19 क्रिकेट विश्व कप के लिए चुना गया। इसके बाद कार्तिक मैदान में छा गए थे। इसके बाद 2009-10 में उनकी बड़ी उपलब्धि ये थी की उन्हें रणजी टीम तमिलनाडु का कप्तान नियुक्त कर दिया गया था। इस दौरान कार्तिक ने उड़ीसा और पंजाब के खिलाफ क्रमश 152, 117 रन बना दिए। इस सीजन उन्होंने 55.37 की औसत से 443 रन बनकर सीजन का अंत किये। 

कार्तिक का इंटरनेशनल करियर 

आप सभी जानते है की कार्तिक का भारतीय टीम में आना जाना लगा ही रहता था। जिसके पीछे सबसे बड़ा कारण था महेंद्र सिंह का भारतीय टीम में शामिल होना। क्योंकि धोनी के पास कार्तिक से बढ़िया स्किल थी और वह उस समय चयनकर्ताओं की पहली पसंद भी थे। यही वजह है की कार्तिक को आसमान में अपने पंख पूरी तरह खोलकर उड़ने का मौका नहीं मिल सका। अब हम चलते है उनके इंटरनेशनल क्रिकेट और आईपीएल करियर की तरफ 

  1. टेस्ट करियर : दोस्तों आपको बता दूँ की दिनेश कार्तिक ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत साल 2004 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कर दिए थे। दिनेश ने अपना आखिरी टेस्ट मैच 2018 में खेले थे। इस दौरान अब तक उन्होंने 26 टेस्ट मैच खेले है जिनमे उन्होंने 1025 रन बनाये है। जिसमे उन्होंने 1 शतक और 7 अर्धशतक शामिल है। इसी बीच उन्होंने विकेट के पीछे 63 शिकार अपने नाम किये है। वही इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 129 रन है। 
  2. वनडे करियर : दिनेश ने 2004 में ही अपने करियर की शुरुआत इंग्लैंड के खिलाफ कर दिए थे। मगर वह हमेशा टीम में निश्चित स्थान पाने के लिए तड़पते रहे। इस दौरान उन्होंने अपने वनडे करियर में 94 मैच खेले और 1752 रन बनाये। इस दौरान उन्होंने 9 अर्धशतक लगाए और विकेट के पीछे 71 शिकार किये। इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 79 रन है।
  3. टी-20 करियर : कार्तिक ने दिसम्बर 2006 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी-20 मैच खेलने की शुरुआत किये थे। इस दौरान उन्होंने 32  और उनमे 399 रन बनाये। इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 48 रन है और विकेट के पीछे उन्होंने 19 शिकार किये है। 

नोट : दिनेश कार्तिक के द्वारा साल 2018 के निदहास ट्रॉफी के फाइनल मैच में खेली गई 8 गेंदों में 29 रन की पारी आज भी दुनिया और उनके लिए सबसे अहम और यादगार पारी है। इस मैच में भारत ने 4 विकेट से जीत दर्ज की थी। हर एक भारतीय के जहन में आज भी जिन्दा है वो पारी। ये मैच भारत और बांग्लादेश के बीच खेला गया था। 

आईपीएल करियर : 

जैसा की आप सभी जानते है आईपीएल में भी दिनेश कार्तिक को ताबड़तोड़ बल्लेबाज के रूप में पहचाने जाते है। साल 2008 में शुरू हुए आईपीएल प्लेयर ऑक्शन में वे फ्रेंचाइजी के पसंदीदा खिलाडियों में से एक थे। साल 2008 में कार्तिक ने अपना पहला आईपीएल सीज़न दिल्ली डेयरडेविल्स टीम की तरफ से खेला जिसे वर्तमान में दिल्ली कैपिटल्स के नाम से जाना जाता है, ओर अगले 2 साल तक कार्तिक उसी टीम से जुड़े रहे। इसके बाद साल 2011 में किंग्स इलेवेन पंजाब ओर 2012-13 में मुंबई इंडियन इंडियन्स की तरफ से उन्हें खेलने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। 

2015 में ओर 2016-17 में गुजरात लाइयन्स की तरफ से उन्होंने खेला थे। इसके बाद 2018 में होने वाले IPL मैच के लिए उन्हें कोलकाता नाइट राइडर्स 7.4 करोड़ की भारी रकम में खरीद कर अपनी टीम में शामिल कर ली थे। पहली बार कोलकाता नाइट राइडर्स टीम की तरफ से खेलने जा रहे हैं कार्तिक को इतना ही नही उन्हे टीम की ज़िम्मेदारी सोपते हुए टीम का कप्तान नियुक्त किया गया। जिसके बाद से लेकर वह अब तक कोलकाता के साथ जुड़े हुए है मगर बीते साल उन्होंने पूरा ध्यान क्रिकेट पर लगाने की वजह से उन्होंने कप्तानी छोड़ दी और इंग्लैंड के कप्तान मॉर्गन की कप्तानी में खेलना शुरू कर दिए। फ़िलहाल वह आईपीएल में कोलकाता के उप कप्तान है। 

दिनेश कार्तिक की पर्सनल लाइफ/निजी जिंदगी

दिनेश कार्तिक अपने जीवन के इस पल में तो वह बहुत खुश है मगर एक समय ऐसा भी आया था जब वह पूरी तरह टूट चुके थे। उन्हें कोई होश नहीं था क्या गलत है क्या सही वह सब कुछ अपनी जिंदगी में खो चुके थे। उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा था की अब वो क्या करे। मगर आखिर ऐसा हुआ क्या जिसकी वजह से वह इतना टूट गए तो आइए जानते है विस्तार से....

भारतीय खिलाड़ी कार्तिक एक बेहद शांत नेचर के खिलाड़ी है। दिनेश ने निकिता के साथ 2007 में शादी कर ली थी दोनों लगभग पांच साल साथ रहे, लेकिन कुछ ऐसा हो गया कि उनका यह रिश्ता 2012 में टूट गया। आपको बता दूँ निकिता और कार्तिक बचपन के दोस्त थे। वही मुरली विजय भी एक भारतीय क्रिकेटर है जो आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ उस समय खेला करते थे। आईपीएल के दौरान ही दिनेश कार्तिक ने अपनी पत्नी निकिता का परिचय अपने दोस्त मुरली विजय से करवाया था। आपको बता दें कि निकिता दिनेश कार्तिक के बचपन की दोस्त भी थी। लेकिन ये परिचय ही दिनेश कार्तिक की सबसे बड़ी भूल साबित हो गयी। 2012 में आईपीएल-5 के दौरान कार्तिक को अपनी पत्नी निकिता और मुरली विजय के अफेयर का पता चला। तो उन्होंने निकिता से तलाक लेने का फैसला कर लिया। इसके बाद 2012 में ही दोनों के बीच तलाक होते ही निकिता ने मुरली विजय से शादी कर ली थी। इस तरह कार्तिक पूरी तरह टूट चुके थे और उनके पास सदमे में जाने के अतिरिक्त कुछ नहीं बचा था मगर फिर एंट्री होती है दिनेश कार्तिक की जिंदगी में दीपिका पल्लीकल जो की पेशे से एक भारतीय पेशेवर स्क्वैश खिलाड़ी हैं। वह पीएसए महिला रैंकिंग में शीर्ष 10 में पहुंचने वाली पहली भारतीय हैं। दीपिका पल्लीकल 2011 में प्रमुखता आयी, जब उन्होंने तीन WISPA टूर खिताब जीते। वह दिसंबर 2012 में शीर्ष 10 में शामिल हुईं। अब फिर बदली कार्तिक जी जिंदगी। 

कहते है की बुरा वक़्त आता सब का है मगर जिसने इसको अच्छे से पार कर लिया वो जीतता जरूर है। ऐसा ही हुआ कार्तिक के साथ। जब दिनेश को अपनी जिंदगी का अंत दिख रहा था उस समय उजाले की रोशनी लेकर आयी दीपिका ने उनके जीवन में एक बार फिर चार चाँद लगा दिए और उनके जीवन को खुशियों की झोली से भर दिए। उसके बाद हुआ क्या फिर अक्टूबर 2014 में एक इवेंट के दौरान दोनों ने कहा कि वे 2015 में शादी कर सकते हैं। कार्तिक ने दीपिका से लगभग दो साल तक चले अफेयर के बाद अगस्त 2015 में शादी की। दीपिका क्रिश्चियन हैं, जबकि दिनेश हिंदू हैं, इसलिए दोनों ही धर्मों के रीति-रिवाजों से उनकी दो बार शादी हुई। दोनों ने 18 अगस्त 2015 को पहले क्रिश्चियन रीतिरिवाज और फिर 20 अगस्त 2015 को हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार शादी के पवित्र बंधन में बंध गए।