हेल्थ

केला खाने के फायदे व उपयोग और नुकसान | Latest News 2022 Benefits and uses and disadvantages of eating banana

केले के फायदे

केला

आज हम आपके लिए लेकर आए हैं  की केले के खाने से क्या क्या फायदे होते है | केले की सबसे  खास बात यह होती है कि यह अन्य फलों की तुलना में भरपूर मात्रा में सस्ता मिलता है, तथा केले में पाए जाने वाले विटामिन, प्रोटीन और अन्य पोषक जैसे तत्व पाए जाते है। एक स्वस्थ शरीर के लिए यह बहुत जरूरी माना जाता हैं. अगर आप शारीरिक कमजोरी से परेशान हो रहे हैं या फिर इम्युनिटी को अच्छा  करना चाहते हैं तो केले को डाइट में जरूर सम्मिलित करें,तथा  इससे आपको बहुत ज्यादा फायदे मिलेंगे।

केले में पाए जाने वाले पोषक तत्व

केला
केला

केले में पाए जाने वाले पोषक तत्वों पर नजर डालें तो इसमें विटामिन-ए, विटामिन-बी और मैग्नीशियम अधिक मात्रा में मिलता है,  तथा इसके अलावा विटामिन-सी, पोटैशियम और विटामिन-बी6, थायमिन, राइबोफ्लेविन भी  बहुत मात्रा में होता है. केले में 64.3 प्रतिशत पानी, 1.3 प्रतिशत प्रोटीन, 24.7 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट भी  पाया जाता है. यह सभी तत्व एक स्वस्थ शरीर के लिए  बहुत जरूरी माना जाता  हैं.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

केला
केला

डाइट एक्सपर्ट डॉक्टर रंजना सिंह के अनुसार, रोज 1 केला खाना आपको बहुत सारी  बीमारियों से बचा सकता है. केले में पोटेशियम  भी बहुत मात्रा में पाया जाता है, जिससे हमारी मसल्स में क्रैंप नहीं आते हैं. केले में कार्बोहाइड्रेट  भी अधिक मात्रा में पाया जाता है, जो हमारे शरीर को एनर्जेटिक रखता है और इसे  हम थकान भी कम महसूस करते हैं. और सुबह के  टाइम एक्सरसाइज से पहले अगर आप दो केले खा लेंगे तो एक्सरसाइज के दौरान आप ज्यादा थकान महसूस नहीं करेंगे.

कमजोरी नहीं आएगी

केला में बहुत अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होता है. इसे खाने से पेट बहुत जल्दी भर जाता है. अगर सुबह-सुबह ऑफिस या कॉलेज जाने के चक्कर में ब्रेकफास्ट छूट जाता है तो एक केला खाकर आप निकल सकते हे इस आपका पेट भरा रहेगा , क्योंकि केला खाने से इंस्टेंट एनर्जी मिलती है. यह आपको दिनभर में ऊर्जा देता है.

 तनाव दूर रहेगा

केले में ट्रिप्टोफैन नामक तत्व बहुत मात्रा में पाया जाता है. इस ट्रिप्टोफैन की वजह से हमारे शरीर में सेरोटोनिन बनता है. सेरोटोनिन को हैप्पी हार्मोन भी कहा जाता है. इससे तनाव  भी बहुत दूर रहता है.

ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए भी केला खाना अच्छा माना जाता है, हाई बीपी के मरीजों के लिए केला खाना खासतौर पर फायदेमंद हो सकता है.

पाचन रहेगा ठीक

केले को खाने से  से पाचन संबंधी समस्या दूर होती है. तथा हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, केले में जो स्टार्च होता है, वह हमारे पाचन तंत्र के लिए अहम गुड बैक्टीरिया के लिए फायदेमंद होता है. केले एंटी एसिड भी होते हैं, इसलिए अगर आपको सीने में जलन की समस्या होती है तो केले का सेवन आपको अभूत अधिक फायदा पहुंचाएगा.

 वजन रहता है कंट्रोल
केले में फाइबर की भरपूर  मात्रा में होती है. साथ ही केले में स्टार्च भी भी अधिक मात्रा में पाया जाता है. यदि कोई इंसान नाश्ते में एक केला खाता है तो इससे उसे देर तक भूख नहीं लगती. इस तरह वजन को नियंत्रित में भी  रखा जा सकता है.

ब्लड प्रेशर को करता है ठीक

केला
केला

केले का उपयोग

 

केला

केले को छीलकर ऐसे ही खा सकते हैं।

इसे फ्रूट सलाद में शामिल करके खाया जाता है।

केला का शेक बनाकर भी पी सकते हैं।

केले के बने चिप्स भी ले सकते हैं।

केला को स्मूदी में इस्तेमाल किया जा सकता है।

दही और केला भी शहद डालकर खा सकते हैं।

इसे सुबह-शाम या कभी भी फल की तरह सीधे खा सकते हैं।

इससे बनी स्मूदी या बनाना शेक को दोपहर में पी सकते हैं।

शाम के समय स्नैक में बनाना चिप्स को शामिल कर सकते हैं।

रोजाना 250 ग्राम तक केले को खाना चाहिए। यह  सेहत के लिए बहुत सुरक्षित सुरक्षित माना जाता है । इससे अधिक केले का सेवन करने पर कुछ नुकसान हो सकते हैं, जिसका लेख के अंतिम भाग में जिक्र किया गया है। ब्लैडर इंफेक्शन को कम करने के लिए 3 से 4 केला का सेवन कर सकते हैं

केले के नुकसान

केला
केला

केला खाने के फायदे और नुकसान दोनों ही होते हैं, लेकिन इसमें कोई शक नहीं है कि केला गुणकारी फल है, लेकिन इसका अत्यधिक सेवन अन्य समस्याओं का कारण भी बन सकता है।

केले में अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट और ट्रिप्टोफैन पाए जाते हैं। इससे व्यक्ति को ज्यादा नींद भी आ सकती है। ऐसे में केले को अधिक खाने  के बाद ड्राइविंग करने से दुर्घटना होने की संभावना हो सकती है।

तथा शराब पीने के बाद केला नहीं खाना चाहिए। क्योकि केला खाने से सिरदर्द हो है।

और कुछ लोगों को केले को खाने से एलर्जी होने  की संभावना भी हो सकती है।

अत्यधिक फाइबर शरीर में आयरन, जिंक, मैग्नीशियम और कैल्शियम के अवशोषण (Absorption) में बाधा बन सकता है । दरअसल, केला में फाइबर होता है, इसलिए केले का अधिक सेवन करने  से यह स्थिति उत्पन्न हो सकती है ।

banana पोटैशियम का भी बहुत अच्छा स्रोत है । ऐसे में अगर कोई पोटैशियम सप्लीमेंट के साथ अधिक मात्रा में banana को खा रहा है, तो उसके शरीर में पोटैशियम की अधिकता (हाइपरकलेमिया) भी हो सकती है ।

तथा banana फाइबर का बड़ा स्रोत है और अधिक मात्रा में फाइबर का सेवन गैस, पेट में ऐंठन और पेट फूलने की समस्या का भी कारण बन सकता है ।

banana स्वास्थ्य के लिए बहुत गुणकारी होता है। और शरीर को तुरंत ऊर्जा प्रदान करता है। इसी वजह से शारीरिक गतिविधि करने वाले लोग इसका सेवन ज्यादा करते हैं। वैसे यह फल सभी के लिए बहुत लाभदायक होता है. इसलिए आप भी इसे अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं। अगर किसी को कोई गंभीर बीमारी है या कोई दवाई ले रहा है, तो केले को आहार में शामिल करने से पहले डॉक्टर की सलाह ले लेनी चाहिए ।

Read Also – यह अन्य फलों की तुलना में काफी सस्ता होता है, 

Read Also – भारतीय बॉलीवुड अभिनेत्री मलाइका अरोड़ा अपने फिल्मी प्रोजक्ट से ज्यादा अर्जून कपूर के साथ

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button